कांग्रेस सरकार में हुए सबसे बड़े घोटाले पर मोदी सरकार का धुंआधार एक्शन, कोंग्रेसियों में मची खलबली

No icon

पिछली सरकारों में भ्रष्टाचारी धड़ल्ले से फल फूल रहे थे और आज भागे भागे फिर रहे हैं, हर दिन इसी खौफ में वो जी रहे हैं कि कहीं उनके कालेधन पर कोई कार्रवाई ना हो जाये. अब हर दिन संपत्ति जब्त, कुर्क करने और छापेमारी की खबरें आती हैं. इसी तरह आज फिर मोदी सरकार में एक और भ्रष्टाचारी के खिलाफ बड़ा ज़बरदस्त एक्शन लिया है.

अभी मिल रही बड़ी खबर के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने उड्डयन क्षेत्र में दलाली करने वाले दीपक तलवार की नई दिल्ली में 120 करोड़ रुपये से अधिक के पांच सितारा होटल हॉलीडे इन को कुर्क कर दिया है। तलवार के खिलाफ मनी लांड्रिंग के एक मामले में यह कार्रवाई की गई है। दीपक तलवार को इसी साल जनवरी में दुबई से यहां प्रत्यर्पित किया गया था और ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था। वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में है।

एजेंसी ने आरोप लगाया कि वह ‘‘UPA सरकार के कार्यकाल में अमीरात, एयर अरेबिया और कतर एयरवेज जैसी एयरलाइनों से अनुचित फायदे उठाने के लिए उनके वास्ते नेताओं, मंत्रियों और अन्य जन सेवकों और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारियों के साथ लॉबिंग में गैरकानूनी रूप से संलिप्त रहा।’’

प्रवर्तन निदेशालय का आरोप है कि तलवार ने आइजीआइ हवाई अड्डे के पास दलाली में मिली रकम से इस होटल का निर्माण कराया था। जांच एजेंसी का आरोप है कि यूपीए सरकार के कार्यकाल में नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने इमीरेट्स, एयर अरबिया और कतर एयरवेज जैसी एयरलाइनों के हित साधने के लिए दीपक तलवार ने अवैध तरीके से इन विदेशी एयरलाइनों को बढ़ावा दिया गया।

ईडी के बयान के अनुसार यह बात उजागर हो गई है कि इन विदेशी एयरलाइनों के पक्ष में वह नेताओं, मंत्रियों, नौकरशाहों और नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अधिकारियों की मदद से फैसले कराता था। ईडी के मुताबिक वर्ष 2008-2009 के बीच तलवार ने राष्ट्रीय एयरलाइंस एयर इंडिया के रूटों पर विदेशी एयरलाइनों के यात्रा के अधिकार सुरक्षित कर दिए थे।

जांच में पता चला है कि इन एयरलाइनों को मिले अनुकूल और अधिक चलने वाले रूटों के बदले दीपक तलवार को 272 करोड़ रुपये की दलाली दी गई थी। इस रकम के जरिए तलवार और उसके परिवार के अन्य सदस्यों ने भारत और विदेश में कई बड़ी संपत्तियां बना ली थीं।

इस बड़े धांधलेबाजी के तार भी कांग्रेस सरकार के मंत्रियों से जुड़े हुए हैं लेकिन भी तक वे इसकी पकड़ से बचते रहे हैं लेकिन अब एक बाद एक कड़ियाँ खुलती जा रही हैं बहुत जल्द मुख्य आरोपी भी सरकार की पकड़ में होगा.

Comment As:

Comment (0)

-->