Site icon Blue India Live

यह App पढ़ रहा है आपके WhatsApp मैसेज। Google ने Play Store से हटाया

App

एक Malware App सामने आया है जो एंड्रॉइड यूजर को फेसबुक, व्हाट्सएप और टेलीग्राम जैसे निजी मैसेजिंग App से बातचीत को ट्रैक और पढ़ सकता है। इस ऐप को Google Play से हटा लिया गया है. बेहतर होगा कि आप इसे जल्द से जल्द अपने फोन से डिलीट कर दें।

Android Users की प्राइवेसी एक बार फिर खतरे में पड़ गई है। अब, एक वायरस प्रोग्राम सामने आया है जो एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं के निजी मैसेजिंग ऐप जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप और टेलीग्राम से बातचीत को फॉलो और पढ़ सकता है। इस ऐप को Google Play से हटा लिया गया है. बेहतर होगा कि आप इसे जल्द से जल्द अपने फोन से डिलीट कर दें।

साइफिरमा की एक जांच के मुताबिक, सेफचैट ऐप यूजर्स के लिए सुरक्षित नहीं है। नाम सेफ होने के बावजूद यह ऐप बिल्कुल भी सेफ नहीं है। यह ऐप यूजर की बातचीत सुनता है और उनके प्राइवेट मैसेज पढ़ता है।

किसने बनायीं ये Malware App

ऐसा माना जाता है कि यह ऐप भारतीय हैकिंग संगठन Bahamut का काम है। Safechat Software उपयोगकर्ताओं के सभी Social
Networking मैसेजिंग ऐप पर नज़र रखता है। उनके फ़ोन के Text Message, Call Records और GPS Location भी देख सकता है।

यह भी देखे- World की Best महिला जासूस पर बनी अब तक की 5 Web Series

इसी संगठन ने 2022 में उपयोगकर्ताओं पर नज़र रखने और जासूसी करने के लिए डमी VPN ऐप बनाए। Cyfirma की रिपोर्ट के मुताबिक, एक बार Bahamut ग्रुप स्पाइवेयर सक्रिय हो जाने पर किसी भी डिवाइस को रिमोट से कंट्रोल किया जा सकता है। इस ग्रुप के मैलवेयर के इस्तेमाल से यूजर के फोन की हर डिटेल तक पहुंचा जा सकता है।

Safechat जैसे Malware ऐप उपयोगकर्ताओं के इंटरनेट कनेक्शन, IP Address , सिम कार्ड सीरियल नंबर आदि के बारे में भी जानकारी एकत्र कर सकते हैं। आपकी जानकारी के लिए, सेफचैट सुरक्षित और सुरक्षित चैटिंग प्रदान करने का दावा करता है, लेकिन वास्तव में यह अपने उपयोगकर्ताओं की जासूसी करता है। अगर आपके फोन में सेफचाट ऐप Install है तो उसे तुरंत हटा दें।

Exit mobile version